0

datta purnima 2019: जीवन की हर बाधा दूर करेंगे श्री दत्तात्रेय भगवान के 6 खास मंत्र

मंगलवार,दिसंबर 10, 2019
Dutt Purnima 2019
0
1
जिन परिवारों में कलह-क्लेश के कारण अशांति का वातावरण हो, वहां घर के लोग मार्गशीर्ष माह में इन मंत्रों का अधिकाधिक जप करें। अगर पूरे माह इन मंत्रों का जाप नहीं कर सकते हो कम से कम गीता जयंती/मोक्षदा एकादशी के दिन इन मंत्रों का जाप अवश्य करें।
1
2
शुक्रवार को पीले कपड़े में 5 कौड़ी और थोड़ी-सी केसर, चांदी के सिक्के के साथ बांधकर तिजोरी या धन रखने के स्थान पर रख दें। उसके साथ थोड़ी हल्दी की गांठें भी रख दें। कुछ दिनों में ही इसका असर होने लगेगा।
2
3
भैरव के मंत्रों का प्रयोग कर व्यापार-व्यवसाय, शत्रु पक्ष से आने वाली परेशानियां, विघ्न, बाधाएं, कोर्ट कचहरी तथा निराशा आदि से मुक्ति पाई जा सकती है। इस बार काल भैरव अष्टमी 19 नवंबर 2019 को है। आइए जानते हैं भैरव के 5 अचूक मंत्र ...
3
4
काल भैरव को काशी का कोतवाल माना जाता है। भैरव जी के 108 नामों को प्रतिदिन, रविवार या शनिवार को पढ़ना चाहिए, साथ ही भैरव जी को सरसों के तेल का दीप व लड्डू अर्पण करना चाहिए। इनका वाहन कुत्ता माना जाता है, अत: कुत्ते को दूध आदि पिलाते रहना चाहिए।
4
4
5
शुभता की प्राप्ति के लिए सूर्य को कैसे जल चढ़ाएं, यह जानना आवश्यक है। प्रस्तुत हैं सूर्य देवता को अर्घ्य देने की आसान विधि
5
6
महाकाल भैरव स्तोत्र अत्यंत प्रभावशाली स्तोत्र है। भैरव अष्‍टमी, भैरव जयंती के दिन इसका पाठ करने से हर आपदा दूर होती है
6
7
मान-सम्मान, पद, प्रतिष्ठा, समाज में रुतबा, पूछ परख कौन नहीं चाहता... अगर कुछ उपाय आजमा लिए जाए तो यह सब आसानी से मिलने लगता है।
7
8
हिन्दू धर्म में बुधवार का दिन भगवान श्री गणेश को समर्पित है। गणेशजी सभी देवता में प्रिय देता है। अत: बुधवार के दिन गणेश जी का पूजन-अर्चन करने से अनं‍‍त सुख और अपार धन-वैभव की प्राप्ति होती है।
8
8
9
हे तुलसी! आप सम्पूर्ण सौभाग्यों को बढ़ाने वाली हैं, सदा आधि-व्याधि को मिटाती हैं, आपको नमस्कार है। तुलसी को अकाल मृत्यु हरण करने वाली और सम्पूर्ण रोगों को दूर करने वाली माना गया है।
9
10
इस एकादशी को सभी एकादशी में बड़ी और पवित्र माना गया है। इस दिन भगवान विष्णु को प्रसन्न किया जाता है। एकादशी पर अवश्य पढ़ें भगवान विष्णु के सरलतम मंत्र-
10
11
देवउठनी एकादशी से भगवान विष्णु जाग्रत होते हैं। पुराणों में वह मंत्र और श्लोक वर्णित है जिसे देव को उठाने के समय बोला जाता है। प्रस्तुत है वह दिव्य देव प्रबोधन मंत्र :
11
12
हम सबके घर में विराजित मां तुलसी के 8 नामों का मंत्र या सीधे 8 नाम एकादशी के दिन बोलने से भगवान विष्णु के साथ मां लक्ष्मी भी प्रसन्न होती है।
12
13
जहां तुलसी का प्रतिदिन दर्शन करना पापनाशक समझा जाता है, वहीं तुलसी पूजन करना मोक्षदायक माना गया है। हिन्दू धर्म में देव पूजा और श्राद्ध कर्म में तुलसी आवश्यक मानी गई है।
13
14
शनि की प्रतिकूलता, साढ़ेसाती और ढैया से सभी भलीभांति परिचित है। शनि का जिक्र होते ही व्यक्ति के मन में भय व शंका का भाव आता है। जबकि सच यह है कि शनि ग्रह थोड़ी-सी स्तुति से तुरंत प्रसन्न हो जाते हैं।
14
15
षष्ठी देवी शिशुओं की अधिष्ठात्री देवी हैं। जिन्हें संतान नहीं होती, उन्हें यह संतान देती है, संतान को दीर्घायु प्रदान करती है। बच्चों की रक्षा करना भी इनका स्वाभाविक गुण धर्म है। मूल प्रकृति के छठे अंश से यह प्रकट हुई हैं तभी इनका नाम षष्ठी देवी ...
15
16
दिवाली, दीपावली के 5 दिन धन के संकट दूर करने के लिए सबसे शुभ माने गए हैं। शास्त्रानुसार व्यक्ति यदि अपने मूल कर्ज से निवृत्ति का उपाय नहीं करता है, तो उसे इस जीवन में अर्थ, उपकार, दया के रूप में किसी भी तरह का उधार लेना ही पड़ता है। इस उधार को उतारने ...
16
17
कुबेर यदि मनुष्य पर अपनी कृपा दृष्टि बनाएं तो कोई भी व्यक्ति कितना ही दरिद्र क्यों न हो। अवश्य ही धन की प्राप्ति करता है। वेबदुनिया के ज्योतिषी बता रहे हैं धन के राजा कुबेर की कृपा के धन प्राप्ति के अचूक मंत्र...
17
18
आप चाहें तो धनतेरस के दिन एक उपाय करके यह जान सकते हैं कि आने वाले साल में आपकी आर्थिक स्थिति कैसी रहेगी। इसके लिए आपको सिर्फ पांच रुपए खर्च करने होंगे।
18
19
इस धनतेरस पर आपको यदि उस पेड़ की टहनी मिल जाए, जिस पर चमगादड़ बैठता हो, तो उसे घर लाएं और.... पढ़ें धनतेरस के विशेष उपाय
19