लाइव हैदराबाद डॉक्टर रेप केस : जहां मर्डर हुआ, वहीं चारों अभियुक्तों को मारा

BBC Hindi| Last Updated: शुक्रवार, 6 दिसंबर 2019 (12:37 IST)
सारांश

* 27 नवंबर की रात हैदराबाद के पास हुई थी हत्या
* 28 नवंबर को की जली हुई लाश बरामद
* 6 दिसंबर को तड़के 3 बजे चारों अभियुक्तों की मुठभेड़ में मौत
* पुलिस का दावा अभियुक्तों ने उन पर की हमले की कोशिश
लाइव रिपोर्टिंग

मेनका गांधी : क़ानून में देरी का मतलब यह नहीं आप किसी को भी सीधे मार डालोगे?

बीजेपी की वरिष्ठ नेता और लोकसभा सांसद मेनका गांधी ने तेलंगाना की निंदा की। उन्होंने कहा कि मैं इस एनकाउंटर के पूरी तरह ख़िलाफ़ हूं। जो कुछ भी हुआ वह बहुत ज़्यादा भयानक है। आप क़ानून को अपने हाथ में नहीं ले सकते। क़ानून के हिसाब से वैसे भी उन्हें फ़ांसी मिलती। अगर क़ानून से पहले ही उन्हें बंदूकों से मार दोगे तो फिर अदालत, पुलिस और क़ानून का फ़ायदा ही क्या है? अगर निर्भया के आरोपियों को अभी तक सज़ा नहीं मिली है तो यह क़ानून की ग़लती है, क़ानून में देरी का मतलब यह नहीं कि आप किसी को भी सीधे मार डालोगे।
देश में दिव्य संस्कार का वातावरण बनाना होगा : स्वामी रामदेव
अपराधों के मामले में कानूनी प्रक्रिया का रास्ता अपनाना चाहिए, लेकिन खूंखार अपराधी और चरित्रहीन लोगों के साथ ऐसे ही न्याय होना चाहिए। सरकारों को देश में दिव्य संस्कार का वातावरण बनाना होगा ताकि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो।

हम जश्न मना रहे हैं पर ये हमारे सिस्टम पर सवाल खड़ा करता है : केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि एनकाउंटर पर लोग जश्न ज़रूर मना रहे हैं लेकिन यह हमारे कानून और विधि व्यवस्था पर सवाल खड़े करता है। उन्होंने कहा कि पूरे देश और समाज को इस बात पर चिंतन करना होगा कि क्रिमिनल और इवेस्टिगेटिव जस्टिस सिस्टम को दुरुस्त कैसे किया जाए।'
शशि थरूर ने कहा, 'हमें निंदा करने से बचना चाहिए'
तेलंगाना एनकाउंटर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने कहा, 'जब तक पूरी जानकारियां नहीं मिल जाती तब तक हमें निंदा करने से बचना चाहिए।'

पुलिस कार्रवाई पर वकील रेबेका जॉन ने उठाए सवाल

जानी-मानी वकील रेबेका मेमन जॉन ने पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए फ़ेसबुक पर पोस्ट लिखा है जिसमें उन्होंने लिखा है- 'कितनी आसानी से हम भीड़ के हाथों इंसाफ़ का जश्न मनाने लगते हैं। वो पुलिस जिस पर कोई कभी भरोसा नहीं करता, वो भरी रात में 4 निहत्थे लोगों को मार डालती है। क्यों? क्योंकि ऐसे लोग रहें या न रहें, किसी को कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता।'
जया बच्चन बोलीं, देर आए, दुरुस्त आए

समाजवादी पार्टी से राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने तेलंगाना एनकाउंटर पर कहा, 'देर आए, दुरुस्त आए।।। देर आए, बहुत देर आए।' जया बच्चन ने संसद में कहा था कि बलात्कार के आरोपियों को जनता के बीच लाकर उन्हें लिंच कर देना चाहिए।

दुष्टों के साथ दुष्टता का व्यवहार होना चाहिए : दिग्विजय सिंह

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने के एनकाउंटर की कार्रवाई को सही बताया है। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि 'अब लग रहा है कि न्याय हुआ है। दुष्टों के साथ दुष्टता का व्यवहार होना चाहिए।'
महिलाओं ने बांधीं पुलिस वालों को राखियां

हैदराबाद में पीड़िता के पड़ोसियों ने पुलिसकर्मियों को राखी बांधी। सुबह-सुबह हैदराबाद पुलिस ने महिला पशु चिकित्सक के साथ रेप मामले के अभियुक्त 4 युवकों को एनकाउंटर में मार दिया था।

राज्यवर्धन राठौड़ ने दी हैदराबाद पुलिस को बधाई
राजस्थान से बीजेपी सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने ट्वीट किया है, 'मैं हैदराबाद पुलिस और उस नेतृत्व को बधाई देता हूं जिसने पुलिस को पुलिस की तरह फ़ैसला लेने की इजाज़त दी। सभी को यह पता चलना चाहिए कि यह ऐसा देश है, जहां हमेशा बुराई पर अच्छाई की जीत होती है।'

पप्पू यादव : उन बेटियों का क्या जिनका यौन शोषण घरों में होता है?

जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव ने कहा है कि हैदराबाद पुलिस की यह कार्रवाई नजीर बनेगी। उन्होंने यह भी सवाल उठाया है कि उन बेटियों को न्याय कैसे मिलेगा जिनका यौन शोषण अपने ही घरों में होता है।
बेहतरीन काम हैदराबाद पुलिस, आपको सलाम : साइना नेहवाल

बैंडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने एनकाउंटर करने वाली पुलिस की प्रशंसा की है। उन्होंने ट्वीट किया है, 'बेहतरीन काम हैदराबाद पुलिस, हम आपको सलाम करते हैं।

उस दिन क्या हुआ था?

28 नवंबर को हैदराबाद में एक टोल प्लाज़ा के पास 26 साल की एक डॉक्टर का जला हुआ शव बरामद हुआ था। जांच में पता चला कि महिला के साथ रेप हुआ था और बाद में हत्या करने के बाद उसे जला दिया था।
शुक्रवार तड़के 3 बजे हुआ था एनकाउंटर। तेलंगाना पुलिस के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) जितेंद्र ने बीबीसी को बताया कि एनकाउंटर शुक्रवार तड़के 3 बजे हुआ।

तेलंगाना पुलिस को बधाई- अनुपम खेर

चलो! अब जितने भी लोगों ने ऐसा घिनौना अपराध करने वालों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाई थी और उनके लिए ख़तरनाक से ख़तरनाक सज़ा चाही थी, मेरे साथ ज़ोर से बोलो- #जय हो।

अभियुक्त उसी जगह मारे गए, जहां डॉक्टर की हत्या हुई। एनकाउंटर हैदराबाद से 50 किलोमीटर दूर महबूब नगर ज़िले के चटनपल्ली गांव में हुआ।
7 साल से भटक रही हूं- निर्भया की मां आशा देवी

मैं पिछले 7 साल से मैं भटक रही हूं। मैं इस देश की न्याय प्रणाली और सरकार से अपील करती हूं कि निर्भया के दोषियों को जल्द से जल्द फांसी दी जाए।

लीगल सिस्टम के ज़रिए होना चाहिए था न्याय- रेखा शर्मा, अध्यक्ष, राष्ट्रीय महिला आयोग

राष्ट्रीय महिला आयोग उनके लिए सज़ा-ए-मौत की मांग कर रहा था। लेकिन वो कानून के ज़रिए होना था। हम स्पीडी जस्टिस की मांग कर रहे थे। ये एक एनकाउंटर हुआ है। इसमें पुलिस ही बता सकती है कि किन परिस्थितियों में ये हुआ है? हम चाहते थे कि न्याय हो। न्याय लीगल सिस्टम से ही होता है। आम लोग ख़ुश हैं कि ये हुआ लेकिन एक हमारा संविधान और लीगल सिस्टम है और उसी के ज़रिए न्याय होना चाहिए था।'
मेरी बेटी की आत्मा को शांति मिली- पीड़िता के पिता

एनकाउंटर के बाद मृतक डॉक्टर के पिता ने कहा कि मेरी बेटी की आत्मा को अब शांति मिली होगी।

हैदराबाद एनकाउंटर- अब तक क्या कुछ हुआ

* एनकाउंटर हैदराबाद से 50 किलोमीटर दूर महबूब नगर ज़िले के चटनपल्ली गांव में हुआ।
* तेलंगाना पुलिस के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) जितेंद्र ने बीबीसी को बताया कि शुक्रवार तड़के 3 बजे चारों संदिग्ध लोगों की एक मुठभेड़ में मौत हो गई।
* इन चारों अभियुक्तों को बुधवार को पुलिस हिरासत में सौंपा गया था।
* एक पुलिस अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर बीबीसी को बताया कि गुरुवार रात को पुलिस चारों अभियुक्तों को उस जगह ले गई, जहां महिला डॉक्टर का जला हुआ शव बरामद किया गया था।
* वहां घटना का दृश्य रीक्रिएट करते वक़्त अभियुक्तों ने पुलिस पर हमला करने की कोशिश की जिसके बाद पुलिस की कार्रवाई में वो मारे गए।
 

और भी पढ़ें :