0

रात में करते हैं पढ़ाई तो अपनाएं ये टिप्स, नहीं आएगी नींद

मंगलवार,नवंबर 19, 2019
0
1
क्या आप जानते है कि हेलीकॉप्टर पेरेंटिंग क्या होती है? अगर नहीं तो अब जान लीजिए और खुद को भी परख लीजिए कि कही आप जाने-अनजाने हेलीकॉप्टर पेरेंटिंग तो नहीं बन गए हैं।
1
2
अधिकांश लड़कियां अपने नाखूनों को बढ़ाती हैं और उन्हें लंबे रखना पसंद करती हैं। अगर आप भी नाखून बढ़ाना पसंद करती हैं, तो आपको ये नहीं मालूम होगा कि ऐसा करना सेहत के साथ जोखिम लेने जैसा है। जानिए, नाखून बढ़ाने से सेहत को
2
3
9 महीनों की गर्भावस्था के बाद मां बनना बेहद सुखद एहसास है, लेकिन मां और नवजात शिशु की सेहत के लिहाज से नाजुक समय भी यही होता है। मां बनने के बाद दर्द, पेट संबंधी एवं अन्य समस्याएं सेहत को काफी हद तक प्रभावित करती हैं।
3
4
डायरिया वह सेहत समस्या है जिसमें बच्चों को दिन भर में तीन या उससे भी अधिक बार पानी की तरह पतले दस्त होना। इसके अलावा कई बार बुखार और उल्टी भी होती है। ऐसे में बच्चों में
4
4
5
सावन सोमवार का व्रत अविवाहित हो या विवाहित अधिकांश महिलाएं रखती हैं। लेकिन यदि आप प्रेग्नेंट है तो आपको ये व्रत व अन्य कोई भी व्रत इस दौरान रखने से बचना चाहिए, वरना ये आपके साथ ही आपके शिशु को
5
6
मानसून में बच्चों को बीमारियां जल्द ही अपनी चपेट में ले लेती है। इसलिए इस मौसम में बच्चों के खान-पान का विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है। आइए, जानते हैं मानसून में बच्चों को बीमार होने से बचाने के लिए 5
6
7
वैसे तो चुकंदर सभी के लिए बेहद फायदेमंद है, क्योंकि यह शरीर में खून बढ़ाने के साथ ही कई तरह के फायदे भी देता है। लेकिन प्रेग्नेंसी में अगर डायटीशियन की सलाह से आप इसका सेवन करती हैं, तो यह दोगुना फायदेमंद हो सकता है।
7
8
गर्भावस्था में आपको खान-पान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। कुछ चीजों का सेवन इस दौरान सेहत को फायदा पहुंचाता है तो कुछ का नुकसान। आइए, जानते हैं
8
8
9
परीक्षा के दौरान कई बच्चे व उनके माता-पिता पढ़ाई का इतना ज्यादा तनाव ले लेते हैं कि कई अन्य जरूरी चीजों को नजरअंदाज कर देते हैं। इन्हीं में से एक है बच्चों का खान-पान। दरअसल परीक्षा के दौरान
9
10
वैसे तो 'दाल का पानी' सभी के लिए फायदेमंद होता है लेकिन खासकर नवजात शिशु और बढ़ते बच्चों के लिए तो ये किसी वरदान से कम नहीं।
10
11
सभी गर्भवती महिलाएं एक स्वस्थ और सुंदर बच्चे को जन्म देना चाहती हैं। लेकिन अगर प्रेगनेंसी के दौरान कुछ बातों का ध्यान नहीं रखा गया तो गर्भ में पल रहे बच्चे में जन्मजात विकृतियां आ सकती है। आइए,
11
12
जब आप बढ़ती उम्र में मां बनती है तो ऐसे में आपको कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। जैसे आपको हाई ब्लड प्रेशर और हाइपरटेंशन हो सकता है।
12
13
कई मामलों में प्रेगनेंसी के 15 हफ्ते के भीतर ही गर्भपात हो जाता है और महिलाओं को पता भी नहीं चल पाता। ऐसे में जरूरी है कि महिलाओं को गर्भपात यानी की एबॉर्शन होने के लक्षणों
13
14
गर्भावस्था किसी भी महिला के लिए एक सुखद अनुभव तो होता है, लेकिन इस दौरान आपको बहुत संभल कर रहने की जरूरत भी होती है। गलत खान-पान आपको मुसीबत
14
15
भरपूर नींद लेना व सोना हमारे जीवन की जरूरतों में एक बहुत ही महत्वपूर्ण आवशयकता है। छोटे बच्चों के लिए तो गहरी नींद की आवशयकता और भी ज्यादा अधिक होती है क्योंकि उनका दिमाग
15
16
पहली बार मां बनने वाली महिलाओं के लिए गर्भावस्था उनके जीवन के बेहद खास पड़ाव में से एक है। पहली गर्भावस्था खुशी के साथ ही ढेर सारी उत्सुकता,सवाल और डर भी साथ लेकर आती है।
16
17
हम अक्सर सोचते हैं कि बच्चों का जीवन कितना अच्छा होता है, क्योंकि उन्हें दुनिया की कोई बड़ी परेशानी नहीं होती है। लेकिन आप नहीं जानते कि बच्चों का मन इतना कोमल होता है कि उनकी दिनचर्या की छोटी-छोटी समस्या भी उन्हें हम बड़ों से भी ज्यादा परेशान कर देती ...
17
18
यदि काफी समय लगाकर कोई चीज सीख ली हो या कोई बात याद कर भी ली हो, तो वे उसे जल्दी ही भूल भी जाते हैं। आखिर ऐसा क्या फर्क है उन बच्चों और आपके बच्चे में?
18
19
आमतौर पर अभिभावक बच्चे की पढ़ाई में रुचि को ही उसके जीवन में भी सफल होने का एकमात्र पैमाना मान लेते हैं, जो कि सही नहीं है। पढ़ाई, प्रमाण-पत्र व शैक्षिक उपाधि या डिग्री प्राप्त करना एक बात है
19