0

दत्तात्रेय जयंती 2019 : 11 दिसंबर को भगवान दत्तात्रेय का अवतरण दिवस, पढ़ें सती अनुसूया की अनोखी कथा

शुक्रवार,दिसंबर 6, 2019
दत्तात्रेय जयंती
0
1
हमारे सनातन धर्म में मुहूर्त का बहुत महत्व होता है। शास्त्रानुसार किसी भी शुभ कार्य को संपन्न करने के लिए विशेष मुहूर्त का होना अति-आवश्यक माना गया है।
1
2
जिन परिवारों में कलह-क्लेश के कारण अशांति का वातावरण हो, वहां घर के लोग मार्गशीर्ष माह में इन मंत्रों का अधिकाधिक जप करें। अगर पूरे माह इन मंत्रों का जाप नहीं कर सकते हो कम से कम गीता जयंती/मोक्षदा एकादशी के दिन इन मंत्रों का जाप अवश्य करें।
2
3
श्रीमद्भगवद्गीता ज्ञान का अद्भुत भंडार है। गीता मानव मात्र को जीवन में प्रतिक्षण आने वाले छोटे-बड़े संग्रामों के सामने हिम्मत से खड़े रहने की शक्ति देती है।
3
4
बुधवार, 11 दिसंबर 2019 को दत्त पूर्णिमा अथवा दत्त जयंती मनाई जा रही है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार सृष्टि में एक भगवान हुए हैं जिन्हें ब्रह्मा विष्णु महेश तीनों का स्वरूप माना जाता है।
4
4
5
अगर आपको किसी भी माह में नया कार्य आरंभ करना हो तो शुभ योग-संयोग देखकर किया जाए तो सफलता निश्चित रूप से मिलती है।
5
6
दिसंबर माह में मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत, दत्त पूर्णिमा, पौष अमावस्या ये त्योहार प्रमुख रूप से रहेंगे। दिसंबर माह में कौन-सा व्रत कब है, जानें प्रमुख तारीखें।
6
7
मकर राशिफल 2020 के अनुसार मकर राशि के जातकों को इस वर्ष अनेक महत्वपूर्ण और कठिन निर्णय लेने पड़ सकते हैं, जो संभवत: आपके आसपास के लोगों को अधिक अच्छे न लगें,
7
8
आइए जानते हैं शनिदेव से जुड़े कुछ रोचक तथ्य और सभी के लिए साल 2020 में शनि की साढ़ेसाती का असर...
8
8
9
साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर को लगेगा। भारतीय समयानुसार ग्रहण सुबह 08 बजकर 17 मिनट पर लगेगा और 10 बजकर 57 मिनट में समाप्त हो जाएगा।
9
10
कुंभ राशिफल 2020 के अनुसार कुंभ राशि के जातकों को इस वर्ष मिश्रित परिणामों की प्राप्ति होगी। यह वर्ष आपके लिए कुछ हद तक चुनौतीपूर्ण भी रह सकता है लेकिन अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति के बलबूते
10
11
मीन राशिफल 2020 के अनुसार मीन राशि के जातकों को इस वर्ष अनेक अच्छी सौगातें मिलेंगी जिससे आपका मन प्रफुल्लित रहेगा
11
12
एक समय की बात है कि एक साहूकार की बेटी पीपल की पूजा करती थी। उस पीपल में लक्ष्मीजी का वास था। लक्ष्मीजी ने साहूकार की बेटी से मित्रता कर ली।
12
13
'वेबदुनिया' के पाठकों के लिए 'पाक्षिक-पंचाग' श्रंखला में प्रस्तुत है पौष कृष्ण पक्ष का पाक्षिक पंचांग-
13
14
वर्षपर्यंत चलने वाले उत्सवों और धार्मिक अनुष्ठानों को हिन्दू धर्म का प्राण माना जाता है और हिन्दू समाज के लोग इन व्रत और त्योहारों को बेहद श्रद्धा और विश्वास के साथ मनाते हैं।
14
15
धार्मिक ग्रंथों के अनुसार महानंदा नवमी मार्गशीर्ष माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को आती है। जो कि इस बार यह तिथि 5 दिसंबर, गुरुवार को आ रही है।
15
16
यहां 'वेबदुनिया' के पाठकों के लिए प्रस्तुत है दिसंबर 2019 का मासिक पंचांग। यहां पढ़ें दिसंबर माह की संपूर्ण तिथियां, जानिए एक ही स्थान पर समस्त सामग्री...
16
17
इस बार दिसंबर 2019 में 2 पंचक आ रहे हैं। पहला पंचक काल 3 दिसंबर, मंगलवार को शुरू हो चुका है, जो कि अग्नि पंचक कहलाता है।
17
18
अक्सर हिन्दू धर्म से जुड़े कुछ सवालों को बार-बार पूछा जाता है लेकिन उनके संतोषप्रद उत्तर नहीं मिलते हैं। हम लाए हैं पुराणों से कुछ सटीक जवाब...
18
19
वर्ष का तीसरा और अंतिम सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर 2019 को लगेगा। यह वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा, जो भारतीय समयानुसार सुबह 08:17 से लेकर 10: 57 बजे तक रहेगा। यह ग्रहण भारत के साथ पूर्वी यूरोप, एशिया, उत्तरी/पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया और पूर्वी अफ्रीका में दिखाई ...
19